बस स्टेंड व ट्रेनों मे जेब काटने की वारदात को अंजाम देने वाला आरोपी काबु।

पानीपत (अमित जैन)

सीआईए-टू टीम प्रभारी इंस्पेक्टर दीपक कुमार ने बताया कि पुलिस अधीक्षक सुमित कुमार के कुशल दिशा निर्देशानुसार अपराध व अपराधिक वारदातों पर अंकुश लगा आरोपियो की धरपकड़ के लिए जिला पुलिस द्वारा विशेष अभियान चलाया गया है।

अभियान के दोरान सीआईए-टू की टीम सघंन प्रयासरत है। मंगलवार साय उन्हे गुप्त सूचना मिली की एक संद्विगध किस्म का युवक पानीपत बस स्टेंड पर किसी अपराधिक वारदात को अंजाम देने की फिराक मे घूम रहा है।उन्होने सीआईए-टू की एक टीम मुख्य सिपाही मदन के नेत्रत्व मे गठीत कर मोकें पर भेजी।

टीम ने तुरंत पानीपत बस स्टेंड पर दंबिस दे संद्विगध रूप से घूम रहे युवक को काबु कर पुछताछ की तो युवक ने अपनी पहचान मिंदर उर्फ मेंढक पुत्र कालूराम निवासी घोसली जिला शामली युपी के रूप मे बताई।

गहनता से पुछताछ करने पर आरोपी ने 14 जून2018 की सुबह पानीपत बस स्टेंड पर टिकट लेने के लिए लाईन मे लगे एक युवक की जेब काटने की वारदात को अंजाम देने बारे स्वीकारा, जेब मे 30 हजार रूपये की नगदी थी। इसके अतिरिक्त आरोपी ने युपी के विभिन्न जिलो मे जेब काटने की 20/25 वारदातों को अजाम देने बारे स्वीकारा। आज फिर जेब काटने की वारदाता को अंजाम देने के लिए पानीपत बस स्टेंड पर आया था।
 
 
14जून 2018 को थाना शहर पानीपत मे कुलदीप निवासी आर.के पुरम पानीपत की शिकायत पर भा.द.स की धारा 379 के तहत मुकदमा नंबर 819/18 दर्ज है। पुलिस को दी शिकायत मे कुलदीप ने बताया था की वह नानोता जाने के लिए सुबह करीब 6 बजे पानीपत बस स्टेंड के काउंटर पर टिकट लेने के लिए लाईन मे लगा हुआ था।इसी दोरान अज्ञात आरोपी ने उसकी पेंट की जेब काटकर 30 हजार रूपये की नगदी निकाल ली।

इंस्पेक्टर दीपक कुमार ने चोरी की 30 हजार रूपये की नगदी मे से बची 5 हजार रूपये की नगदी गिरफतार आरोपी मिंदर उर्फ मेंढक के कब्जे से बरामद कर आरोपी को आज न्यायालय मे पेश कर न्यायिक हिरासत भेजा गया।
 

Leave a Comment