युवा बोलेगा मंच ने आईजी भारतीय अरोड़ा को सौंपा ज्ञापन

करनाल: सीएम सिटी के आईजी ऑफिस के सामने युवा बोलेगा मंच के सदस्यों ने लगभग ढाई साल से चल रही जांच को निष्पक्ष और तेजी से करवाने के लिए हाथों में न्याए दिलवाने के पोस्टर लिखकर जबरदस्त नारेबाजी की,,असल मे एक मृत बुजुर्ग एन आर आई की इकलौती लड़की एन आर आई रविंद्र करास द्वारा 5 करोड़ की धोखाधड़ी जो उनके पापा के साथ की गई थी उसी जांच को और तेज करने के लिए जोरदार नारेबाजी करते हुए आईजी भारतीय अरोड़ा को ज्ञापन सौंपा, मृतक बुजुर्ग हरभजन सिंह राणा की पुत्री रविंद्र करास की शिकायत पर 2 साल पहले करनाल कोर्ट से निलंबित, वकील दंपत्ति संतोष यादव ,पति सतपाल यादव वासी सेक्टर 7, वकील पवनदीप,, हरप्रीत कौर पत्नी रविंदर पाल सिंह, वासी मॉडल टाउन, सिमरप्रीत पुत्री रविंद्र पाल सिंह, मनीषा कुमारी पत्नी सुभाष चौधरी, शांति देवी, माता मनीषा कुमारी वाशी सेक्टर 7 अर्बन स्टेट, ब्रांच मैनेजर इंडियन बैंक महिला आश्रम मिस्टर मिश्रा, भारती मिश्रा पत्नी ब्रांच मैनेजर वह अन्य के खिलाफ धोखाधड़ी सहित विभिन्न धाराओं  के तहत मामला दर्ज है, जिस की कार्रवाई बहुत धीमी गति से चल रही थी

युवा बोलेगा मंच के हरियाणा प्रदेश अध्यक्ष एडवोकेट जेपी शेखपुरा ने बताया कि मृतक बुजुर्ग हरभजन सिंह राणा की पुत्री रविंद्र करास ने 16 मार्च 2018 को इन आरोपियों के खिलाफ एसपी करनाल को शिकायत दी थी और आरोप लगाया था कि इन आरोपियों ने प्लानिंग के तहत उसके पिता हरभजन सिंह राणा 90 वर्ष के जो अब इस दुनिया में नहीं है उनकी 5 करोड़ की एफडी में अपना नाम साथ जोड़कर राशि अपने खाते में डालकर हड़प ली है उन्होंने कहा था कि अन्य संपत्ति जालसाजी से अपने नाम कर ली गई या करने की तैयारी में है,इसी मामले को पिडित ईकलोती इंग्लैंड में रह रही मृतक हरभजन राणा की पुत्री रविंद्र करास की अपील पर एडवोकेट जेपी शेखपुरा ने उनका साथ देते हूए कहा की आज कानून के रखवाले बतौर वकील ही ऐसा फर्जीवाड़ा काम करेंगे तो आम आदमी को न्याय कहां से मिलेगा

उन्होंने कहा कि मृत हरभजन सिंह जिन्होंने इंग्लैंड में इंजीनियर के तहत अपनी जिंदगी का समय काटा और आराम की जिंदगी जीने के लिए करनाल सेक्टर 7 कोठी नंबर 2183 में अकेले रहने लग गए, आरोपी संतोष जो हरभजन सिंह राणा के मकान से 50 गज की दूरी पर रहती थी, और पवनदीप वकील इन दोनों ने घर में आना-जाना शुरु कर दिया और हरभजन सिंह राणा पर अपना प्रभाव डालना शुरू कर दिया इसके अलावा मनीषा चोपड़ा चार्टर्ड अकाउंटेंट पहले से ही वित्तीय मामले इनकम रिटर्न एफडी व बैंक का अकाउंट को मेंटेन करती थी इन सभी की हरभजन सिंह राणा के पैसे पर बुरी नियत लगनी शुरू हो गई,

जेपी शेखपुरा ने बताया कि 18 अगस्त 2016 को रक्षाबंधन के दिन अचानक जब कलवेहडी गांव के एक एक्स सरपंच गुरमीत सिंह, दो बहनों को लेकर राखी बांधने के लिए हरभजन सिंह राणा की कोठी पर पहुंचे तो वहां अंदर बाहर ताला लगा हुआ था, सरदार गुरमीत सिंह ने दाल मैं कुछ काला नजर आया और पड़ोस में रह रही संतोष यादव के मकान को खटखट किया और गेट खोलने के लिए बातचीत की,तभी संतोष यादव  चाबियां लेकर आई और उन्होंने गेट खोला फिर जाकर अंदर का जो दरवाजा खोला तो 90 वर्षीय बुजुर्ग हरभजन सिंह राणा फर्श पर अर्धनग्न संदिग्ध हालात में पड़े हुए थे, बाई चांस अगर उस दिन सरदार गुरमीत सिंह जी नहीं आते तो शाम तक हरभजन सिंह राणा फरस पर ही आखरी सांस ले लेते ओर इस दुनिया से चले जाते

धोखाधड़ी करने वाले यह आरोपी अपने मकसद में कामयाब हो जाते, उसके बाद तुरंत सभी ने मिलकर हरभजन सिंह राणा को आलोक गुप्ता हॉस्पिटल में पहुंचाया वहां से उनको अपोलो हॉस्पिटल दिल्ली रेफर कर दिया गया, जब रिश्तेदार व अन्य दिल्ली में अपोलो हॉस्पिटल में थे तो उनके पीछे से हरभजन सिंह राणा की कोठी में रखी हुई डाक्यूमेंट्स डारिया एफडी पासपोर्ट अन्य चेक बुक आरोपी संतोष यादव ने उठाकर अपने घर रख ली जो आज तक रखी हुई है ,केवल पासपोर्ट वापिस दिया गया था संतोष यादव द्वारा, इसके कुछ दिनों बाद उनकी इकलौती वारिस अपने पिता को लंदन ले गई उस दौरान भी उनकी बेटी रविंद्र कराश गिडगीडाती रही पर इन आरोपियों ने पासपोर्ट के अलावा कोई भी डाक्यूमेंट्स वापिस नहीं किए, अब यह जांच जिन अधिकारियों द्वारा की जा रही है

इस जांच को दूध का दूध पानी का पानी करवाने के लिए युवा बोलेगा मंच के सदस्यों ने आईजी ऑफिस के बाहर जबरदस्त नारेबाजी की और आईजी भारतीय अरोड़ा को लिखित रूप में ज्ञापन सौंपा, वहां मौजूद एडवोकेट जेपी सिंह ने कहा कि, आरोपी संतोष यादव द्वारा फर्जी वसीयत बनवाई गई थी, इस समय इसके 2 लाभार्थी अनीता भटेजा, और मीनाक्षी लिखित रूप से अपना एफिडेविट देकर खुद इस वसीयत को झुठला चुके हैं, एडवोकेट जेपी सिंह का कहना है कि शुक्र है इकलौती वारिस रविंद्र क्रश के पिताजी डेड साल जिंदा रहे, और लंदन में 15 .3. 2018 को नवीनतम वसीयत के तहत अपने बयान दर्ज करवा कर इस दुनिया से चले गए, इसके अलावा इस ठगी कांड के बारे मृतक बुजुर्ग हरभजन सिंह राणा की बेटी रविंद्र करास की शिकायत पर माननीय बार काउंसिल पंजाब हरियाणा की स्पेशल कमेटी ने संज्ञान लेकर आरोपी दंपत्ति वकील संतोष यादव और सतपाल यादव के वकालत लाइसेंस को 6-3-2020 को निलंबित कर दिया

प्रदर्शन कर रही गुरु गोविंद सिंह की लाडली फौज की तरफ से बाबा अमीर सिंह बाबा जगपाल सिंह ने कहा कि बड़ा खेद का विषय है आरोपियों के प्रभाव से जांच पर आच देरी से चल रही है उन्होंने कहा कि माननीय डीजीपी हरियाणा ने सुश्री आईजी भारती अरोड़ा साहब की सुपर विजन में कैथल के चर्चित ईमानदार पुलिस कप्तान को जांच का निर्देश दे रखा है जिसमें आरोपियों को जरूर दंड मिलेगा, उक्त ठगी कांड बारे दर्ज एफ आई आर नंबर 595 / 2018 में तीव्रता से जांच कार्रवाई होगी और हमारा कानून व्यवस्था पर विश्वास बना रहेगा और करनाल आसपास में रहने वाले N.R.I. बुजुर्ग शांति सुरक्षा का माहौल महसूस करेंगे यही समाज को सुंदर संदेश जाएगा इसी के तहत आज आंदोलन करके जांच कर रहे अधिकारियों को जगाना हमारा मेन मकसद है

इस दौरान युवा बोलेगा मंच के जिला महिला महिला अध्यक्ष राज साध्वी सोनी करनाल शहरी अध्यक्ष पुष्पा गोलपुरी सोशल मीडिया प्रभारी मीनू मुंजाल करनाल शहरी अध्यक्ष हनी कालरा प्रतीक लटवाल वकील एडवोकेट जितेंद्र राणा, एडवोकेट विजेंद्र मलिक, रिटायर प्रोफेसर इंदु बाला,, संजू मलिक दीपा मुंजाल, नीलोखेड़ी अध्यक्ष साहिल कीर्तन और अन्य साथी मौजूद थे

Leave a Comment