मिलों में फंसे करोड़ों रुपये को लेकर आढ़तियों ने जताया रोष 

सोनीपत  ( आदेश त्यागी घसौली )  धान के पिछले सीजन की राशि का अब तक मिल मलिकों के द्वारा भुगतान नहीं किए जाने पर बुधवार को मंडी आढ़तियों ने रोष जताया। आढ़तियों ने कहा कि उनके करोड़ो रुपये फंसे होने के कारण, इस सीजन में उन्हें बैगर पैसे के अनेकों समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है। उन्होंने कहा कि वह मिलों से पैसे निकलवाने के लिए उच्च अधिकारियों से सहयोग मांग चुके है, लेकिन अभी तक समस्या का समाधान नहीं हुआ।
आढ़ती महावीर शर्मा, रमेश, विकास मलिक, टेकराम, कस्तुरी आदि ने कहा कि पिछले धान के सीजन में मिल संचालकों ने धान की खरीद उनके माध्यम से की थी। महावीर शर्मा ने कहा क मिलों में मंडी से करोड़ों रुपये का धान गया था, लेकिन पिछले धान का अगला सीजन आ गया है, अब तक उस राशि का भुगतान नहीं किया गया है। रमेश ने कहा कि इस बार आढ़ती मिलों को धान देने में डर रहे है। विकास मलिक ने कहा कि धान की करोड़ों रुपये राशि रुकी होने के कारण उन्हें इस सीजन अनेकों समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है। टेकराम ने कहा कि न तो वह समय पर किसानों के पैसे चुका पाते है और न ही दुकानों का खर्च चला पा रहे है। कस्तुरी ने कहा कि वह बकाया राशि को दिलवाए जाने की मांग को लेकर जिला उपायुक्त के अलावा विभिन्न अधिकारियों से गुहार लगा चुके है, लेकिन समस्या जस की तस है। आढ़तियों ने प्रशासनिक अधिकारियों का साथ मांगा और उनकी बकाया राशि निकलवाएं जाने की मांग की।

Leave a Comment