99 साल के बुजुर्ग की हार्ट सर्जरी कर बचाई जान

रेवाड़ी- गढ़ी बोलनी रोड स्थित मार्स अस्पताल एंड हार्ट इंस्टीट्यूट ने हार्ट की बीमारी से पीड़ित एक 99 साल के बुजुर्ग का सफल ऑपरेशन कर उनकी जान बचाई है। गांव खालेटा निवासी 99 वर्षीय हरिसिंह को हार्ट अटैक की स्थिति में अस्पताल में भर्ती कराया था। उन्हें बड़ा हार्ट अटैक आया था। जांच में पता चला कि उनके लेफ्ट वेंट्रिकुलर फेलियर में थे। जिससे हार्ट अटैक का खतरा और भी ज्यादा बढ़ गया। अस्पताल के चेयरमैन एवं सीनियर कार्डियोलॉजिस्ट डा. अभय कुमार ने मरीज के परिवार की सहमति से तुरंत उनकी एंजियोग्राफी की, जिससे पता चला कि हार्ट अटैक होने का मुख्य कारण हार्ट की एक प्रमुख नस जिसे एलएडी कहा जाता है, उसमें 99 प्रतिशत ब्लॉकेज होना है। डा. अभय कुमार ने हरिसिंह को एलएडी में स्टेंट (छल्ला) डालकर उनकी जान के खतरे को कम किया। एंजियोप्लास्टी स्टेंटिंग करने के बाद अब हरिसिंह को हार्ट अटैक की स्थिति में तुरंत आराम मिल गया। साथ ही सांस एवं दिल की धड़कन भी सामान्य हो गई। कुछ दिन अस्पताल में रखने के बाद अब उन्हें घर भेज दिया गया है।

अस्पताल के डायरेक्टर ऑपरेशन्स वी द्विवेदी ने बताया कि क्षेत्र का यह पहला ऐसा मामला है, जिसमें इतनी ज्यादा उम्र के किसी व्यक्ति के हार्ट की एंजियोप्लास्टी हुई हो। अमूमन इस उम्र में हार्ट अटैक का खतरा झेलना बहुत मुश्किल होता है। उससे भी ज्यादा मुश्किल इतनी उम्र में एंजियोप्लास्टी करना होता है। इससे पहले भी डा. अभय कुमार इसी तरह के जटिल ऑपरेशन कर चुके है।

Leave a Comment