हवन यज्ञ से हुआ एन.एस.एस.के सात दिवसीय विशेष शिविर का शुभारंभ

पानीपत : फरवरी

आर्य महाविद्यालय में एन.एस.एस इकाई के तत्वावधान में दिनांक 22 से 28 फरवरी तक ‘ कोरोना जागरूकता में युवाओं की भूमिका ‘ विषय पर सात दिवसीय विशेष शिविर का हवन यज्ञ में आहूति डालकर शुभारंभ हुआ ।

प्राचार्य डॉ.जगदीश गुप्ता ने महाविद्यालय एन.एस.एस इकाई के

तत्वावधान में लगाए जा रहे सात दिवसीय विशेष शिविर के सफल आयोजन के लिए महाविद्यालय एन.एस.एस इकाई के समन्वयक प्रो.विवेक गुप्ता सहित अन्य स्टाफ सदस्यों को बधाई दी ।

प्राचार्य ने अपने संबोधन में कहा कि इस शिविर के दौरान सभी वॉलंटियर्स को बहुत कुछ नया सीखने का अवसर मिलेगा । इस तरह के शिविरों से समाज में जागरूकता आती है । साथ ही प्राचार्य डॉ . गुप्ता ने यह भी बताया कि स्वयंसेवकों द्वारा बहुत ही आकर्षक रंगोली भी बनाई गई ।

कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में कुरूक्षेत्र विश्वविद्यालय , कुरूक्षेत्र से एन.एस.एस समन्वयक डॉ.दिनेश राणा ने शिरकत की । इस अवसर पर सभी विद्यार्थियों ने मुख्य अतिथि के साथ मिलकर महाविद्यालय प्रागंण में पौधा रोपण किया ।

डॉ.राणा ने अपने संबोधन में कहा कि कोरोना काल के दौरान आर्य महाविद्यालय की एन.एस.एस ईकाई द्वारा सराहनीय कार्य किए गए । साथ ही उन्होंने कहा कि जिंदगी में लडाई लड कर जीतने में ही आंनद है जैसे हमने कोरोना काल में महामारी से जंग लडते हुए आपदा को अवसर में बदला है ।

एन.एस.एस इकाई के समन्वयक प्रो.विवेक गुप्ता ने बताया कि शिविर में सभी वॉलंटियर्स ने बढ़चढ़ कर भाग लिया । इस कार्यक्रम में स्वयंसेवकों ने गीत , भाषण , कविताओं , नृत्य व नुक्कड नाटकों के माध्यम से कोरोना महामारी पर जागरूकता के संदेश दिए । साथ ही उन्होंने वर्ष भर में हुई एन.एस.एस गतिविधियों की रिपोर्ट एक डॉक्यूमेंट्री के प्रस्तुत की ।

 

उन्होंने यह भी बताया कि इस विशेष शिविर में पानीपत के सिवाह गांव में कोरोना जागरूकता के अलावा प्राथमिक व घरेलू उपचार की ट्रेनिंग , वित्तिय साक्षरता , स्वच्छता अभियान , जागरूकता रैली व नशा मुक्ति से सबंधित विषयों पर कार्यक्रमों का आयोजन करवाया जाएगा । मंच संचालन छात्रा मिताली व रूपल मिश्रा ने किया ।

Leave a Comment