रिफाइनरी द्वारा मजदूरों के लिए राहत सामग्री का वितरण।

पानीपत (अमित जैन)

इंडियन ऑयल संकट की इस घड़ी में भी में पेट्रोलियम पदार्थों के वितरण के साथ-साथ, अपने सामाजिक उत्तरदायित्व के अंतर्गत हमेशा से ही अपने आसपास ग्रामीण इलाक़ों में कल्याणकारी गतिविधियों को जारी रखे हुए हैं ।ताकि देश के साथ साथ, निर्धन और गरीब तबके के लोगों का भी ध्यान रखा जा सके।

इंडियन ऑयल के अपने *’केयर’* मूल्य के अंतर्गत पानीपत रिफाइनरी एवं पेट्रोकेमिकल काम्प्लेक्स के प्रताप सिंह, एस के गुड्डू, जोगिंदर सिंह, कर्मचारी यूनियन के सम्पूरन सिंह व अभिषेक तागड़ा
ने ग्राम पंचायत सचिव वीरभान, पटवारी योगेश, सतपालसिंह, सिठाना सरपंच, विक्रम सिंह, बाहोली सरपंच, दीपक, ददलाना सरपंच तथा बाहोली चौकी इंचार्ज राजपाल मलिक की उपस्थिति में रिफाइनरी के आसपास के गांव – सिंहपुरा सिठाना, पाला मार्केट, बाज़ीगरबस्ती, बाहोली, कोको पेट्रोल पंप से टाउनशिप रोड खोदखेड़ी व ददलाना गांव में रह रहे प्रवासी मजदूरों एवं निर्धन वर्ग को जरूरत का सामान वितरित करने की पहल की है।

प्रताप सिंह ने कहा कि देश में कोरोना महामारी के चलते प्रवासियों के पास राशन कार्ड ना होने तथा लॉकडाउन के कारण उन्हें रोज़मर्रा के आवश्यक चीज़ों तथा अपने परिवार के लिए उन्हें खाना जुटाना बड़ा मुश्किल हो गया है। जिसके चलते रिफाइनरी द्वारा प्रत्येक मजदूर के परिवार को आटा, चावल, नमक,चीनी, दाल, सरसों तेल तथा मशाला इत्यादि लगभग दो हज़ार परिवारों को वितरित किया गया ताकि इस संकट की घड़ी में उनके परिवार में कोई भी भूखा न रहे ।

इंडियन ऑयल हमेशा ही अपने देश के साथ कंधा से कंधा मिलाकर खड़ा है।ओर ये प्रवासी मजदूर रिफाइनरी तथा आसपास के फ़ैक्टरियों में दिन-रात परिश्रम करके अपनी रोजी-रोटी कमाते हैं और देश के विकास में अपना योगदान दे रहे हैं।

रिफ़ाइनरी द्वारा राशन वितरण जैसे नेक कार्यों की ज़िला प्रशासन के साथ-साथ बाहोली, सिठाना, ददलाना के सरपंच एवं मज़दूर परिवार के सदस्यों ने सराहना की ।

Leave a Comment