रेमडेसिविर इंजेक्शन की कालाबाजारी करने के मामले मे तीनो आरोपियो गिरफ्तार

पुलिस अधीक्षक श्री शशांक कुमार सावन के कुशल मार्गदर्शन मे कार्रवाही करते हुए सीआईए-वन पुलिस के हाथ लगी बड़ी सफलता।

रेमडेसिविर इंजेक्शन की कालाबाजारी करने वाले तीन युवको को सीआईए-वन पुलिस टीम ने 19 इंजेक्शन व आई-20 कार सहित गिरफ्तार करने मे बड़ी कामयाबी हासिल की।

आरोपी 35 हजार रूपये मे इंजेक्शन को बेच रहे थे।

पकड़े गए आरोपियो की पहचान केशव उर्फ कन्नू पुत्र राजकुमार निवासी कलंदर चौक, सुनील पुत्र चन्द्रसिह निवासी जलालपुर व सुमित पुत्र श्री कृष्ण निवासी गुरूनानकपुरा कच्चा कैम्प पानीपत के रुप मे हुई।

सीआईए-वन प्रभारी इंस्पेक्टर राजपाल सिंह ने बताया की पुलिस अधीक्षक श्री शशांक कुमार सावन जी के सख्त दिशानिर्देशो के तहत सीआईए-वन पुलिस टीम ने कोविड-19 महामारी की जंग में सजगता व सर्तकता रखते हुए आज सैक्टर-18 मे गर्वमेंट कालेज के पास से आई-20 कार सवार तीन युवको को अवैध रुप से रेमडेसिविर एन्टी वायरल इन्जेक्शन की कालाबजारी करते हुए 19 इंजेक्शन सहित गिरफ्तार किया है। पकड़े गए आरोपियो की पहचान केशव उर्फ कन्नू पुत्र राजकुमार निवासी कलंदर चौक, सुनील पुत्र चन्द्रसिह निवासी जलालपुर व सुमित पुत्र श्री कृष्ण निवासी गुरूनानकपुरा कच्चा कैम्प पानीपत के रुप मे हुई। आरोपी 35 हजार रूपये मे इंजेक्शन को बेच रहे थे।

सीआईए-वन प्रभारी इंस्पेक्टर राजपाल सिंह ने जानकारी देते हुए बताया कि आज साय गुप्त सूचना मिली की एक आई-20 कार सवार तीन युवक भारी संख्या मे रेमडेसिविर इंजेक्शन की कालाबाजारी करने के लिए सैक्टर-18 मे गर्वमेंट कालेज के पीछे खड़े है। उन्होने तुरंत यह सूचना पुलिस अधीक्षक श्री शशांक कुमार सावन जी के संज्ञान मे लाकर आदेशानुसार पानीपत ड्रग कन्ट्रोल ऑफिसर श्रीमति विजय राजे को सूचना दे उनको साथ लेकर आरोपित की धरपकड़ के लिए अपनी टीम को साथ ले तुरंत मौके पर दंबिस दे आई-20 कार सवार तीनो युवको को काबु कर प्रारंभिक पूछताछ की तो युवको ने अपनी पहचान केशव उर्फ कन्नू पुत्र राजकुमार निवासी कलंदर चौक, सुनील पुत्र चन्द्रसिह निवासी जलालपुर व सुमित पुत्र श्री कृष्ण निवासी गुरूनानकपुरा कच्चा कैम्प पानीपत के रुप मे बताई। कार की तलाशी लेने पर 19 रेमडेसिविर इंजेक्शन बरामद हुए। तीनो युवको से इंजेक्शन के खरीद रिकॉर्ड, दवाओं की बिक्री लाइसेंस, लाइसेंस प्रस्तुत करने के लिए कहा, लेकिन वह मौके पर कोई भी लाईसैन्स या रसीद इत्यादि नही दिखा सके। ड्रग कन्ट्रोल ऑफिसर श्रीमति विजय राजे की शिकायत पर आरोपियो के खिलाफ ड्रग व कास्मेटिक एक्ट व आईपीसी की विभिन्न धाराओ के तहत थाना सैक्टर 13/17 मे मुकदमा दर्ज कर कानूनी कार्रवाई अमल मे लाई गई। गहनता से पूछताछ करने के लिए बुधवार को तीनो आरोपियो को माननीय न्यायालय मे पेश कर पुलिस रिमांड लिया जाएगा।

Leave a Comment